कक्षा 7 हिंदी व्याकरण अध्याय 12 सर्वनाम का रूप परिवर्तन

कक्षा 7 हिंदी व्याकरण अध्याय 12 सर्वनाम का रूप परिवर्तन के लिए अभ्यास के प्रश्न तथा अध्ययन सामग्री शैक्षणिक सत्र 2023-24 के अनुसार संशोधित रूप में विद्यार्थी यहाँ से निशुल्क प्राप्त कर सकते हैं। सातवीं कक्षा में हिंदी व्याकरण सीखने में समय लगता है। इसलिए धैर्य रखें अपनी प्रगति को बनाए रखें और सीखने के लिए प्रेरित रहें।

सर्वनामों का रूप-परिवर्तन

जिस प्रकार संज्ञा शब्दों में कारक-चिह्न विकार उत्पन्न करते हैं उसी प्रकार सर्वनाम शब्दों के साथ जब कारक चिह्नों का प्रयोग किया जाता है तो उनके रूप में विकार आ जाता है। सर्वनाम का प्रयोग एकवचन और बहुवचन दोनों में होता है। जैसे: मैं-हम, वह-वे, यह-ये, इसका-इनका आदि।
संबंधवाचक के अतिरिक्त अन्य किसी कारक के कारण सर्वनाम शब्द का लिंग परिवर्तन नहीं होता। संबोधन कारक में सर्वनाम शब्दों का रूप-परिवर्तन नहीं होता। सर्वनाम में संबोधन कारक इसलिए नहीं होता क्योंकि किसी को सर्वनाम द्वारा पुकारा नहीं जाता।

पुरुषवाचक उत्तम पुरुष ‘मैं’

कर्तामैं, मैंनेहम, हमने
कर्ममुझको, मुझेहमको, हमें
करणमुझसे, मेरे द्वाराहमने, हमारे द्वारा
संप्रदानमुझको, मेरे लिए, मुझेहमको, हमारे लिए, हमें
अपादानमुझसेहमसे
संबंधमेरा, मेरे, मेरीहमारा, हमारे, हमारी
अधिकरणमुझमें, मुझ परहममें, हम पर

अनिश्चयवाचक ‘कोई’
कर्ता कोई, किसी ने कोई, किन्हीं ने
कर्म किसी को किन्हीं को
करण किसी से, किसी के द्वारा किन्हीं से, किन्हीं के द्वारा
संप्रदान किसी के लिए, किसी को किन्हीं के लिए, किन्हीं को
अपादान किसी से किन्हीं से
संबंध किसी का, किसी के, किसी की किन्हीं का, किन्हीं के, किन्हीं की
अधिकरण किसमें, किस पर किनमें, किन पर

पुरुष वाचक मध्यम पुरुष ‘तू’

कर्तातू, तूनेतुम, तुमने
कर्मतुझको, तुझेतुमको, तुम्हें
करणतुझको, तेरे द्वारातुमने, तुम्हारे द्वारा
संप्रदानतुझे, तुझको, तेरे लिएतुम्हें, तुमको, तुम्हारे लिए
अपादानतुझसेतुमसे
संबंधतेरा, तेरे, तेरीतुम्हारा, तुम्हारे, तुम्हारी
अधिकरणतुझ मे, तुझ परतुम में, तुम पर

निश्चयवाचक ‘यह’
कर्ता यह, इसने ये, इन्होंने
कर्म इसको इनको, इन्हें
करण इससे, इसके द्वारा इनसे, इनके द्वारा
संप्रदान इसके लिए, इसको इनके लिए, इनको
अपादान इससे इनसे
संबंध इसका, इसके, इसकी इनका, इनके, इनकी
अधिकरण इसमें, इस पर इनमें, इन पर

अन्य पुरुष ‘वह’
कर्तावह, उसनेवे, उन्होंने
कर्मउसको, उसेउनको, उन्हें
करणउससे, उसके द्वाराउनसे, उनके द्वारा
संप्रदानउसके लिए, उसकोउनके लिए, उनको
अपादानउससेउनसे
संबंधउसका, उसके, उसकीउनका, उनके, उनकी
अधिकरणउसमें, उस परउनमें, उन पर

प्रश्नवाचक ‘कौन’?
कर्ता कौन, किसने कौन, किन्होंने
कर्म किसे, किसको किन्हें, किनको
करण किससे, किसके द्वारा किनको, किनके द्वारा
संप्रदान किसके लिए, किसको किनके लिए, किनको
अपादान किससे किनसे
संबंध किसका, किसके, किसकी किनका, किनके, किनकी
अधिकरण किसमें, किस पर किनमें, किन पर

संबंधवाचक ‘जो’
कर्ता जो, जिसने जो, जिन्होंने
कर्म जिसको जिनको
करण जिससे, जिसके द्वारा जिनसे, जिनके द्वारा
संप्रदान जिसके लिए, जिसको जिनके लिए, जिनको
अपादान जिससे जिनसे
संबंध जिसका, जिसके, जिसकी जिनका, जिनके, जिनकी
अधिकरण जिसमें, जिस पर जिनमें, जिन पर

कक्षा 7 व्याकरण अध्याय 12 सर्वनाम का रूप परिवर्तन
कक्षा 7 हिंदी व्याकरण सर्वनाम का रूप परिवर्तन
कक्षा 7 हिंदी व्याकरण सर्वनाम का रूप
कक्षा 7 हिंदी व्याकरण अध्याय 12
कक्षा 7 हिंदी व्याकरण पाठ 12 सर्वनाम का रूप परिवर्तन
कक्षा 7 हिंदी व्याकरण सर्वनाम के रूप में परिवर्तन
कक्षा 7 हिंदी व्याकरण में सर्वनाम का रूप परिवर्तन