कक्षा 4 हिंदी व्याकरण अध्याय 5 संज्ञा तथा उसके भेद

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 4 हिंदी व्याकरण पाठ 5 संज्ञा तथा उसके भेद सीबीएसई और राजकीय बोर्ड शैक्षणिक सत्र 2022-2023 के लिए संशोधित रूप में यहाँ से निशुल्क प्राप्त की जा सकती है। संज्ञा के बारे में हमें पिछली कक्षाओं में भी पढ़ चुके हैं। इस अध्याय के माध्यम से हम संज्ञा को और अच्छी तरह से दोहरा सकते हैं और अभ्यास के प्रश्नों के माध्यम से उसे परीक्षा के लिए भी तैयार कर सकते हैं।

कक्षा 4 के लिए हिंदी व्याकरण अध्याय 5 संज्ञा तथा उसके भेद

मुफ़्त सीबीएसई ऐप डाउनलोड

iconicon

संज्ञा

किसी व्यक्ति, प्राणी, स्थान, वस्तु और भाव के नाम को संज्ञा कहते हैं।

उदाहरण:
1. मेज पर गिलास रखी है। (वस्तु)
2. घर के पास ही बाजार है। (स्थान)
3. फूलों की सुन्दरता मन मोह लेती है। (भाव)
4. बच्चे नेहरु जी को चाचा कहते थे। (क्यक्ति)
4. भैंस की पीठ पर कौआ बैठा है। (पशु-पक्षी)

इन वाक्यों में मेज, घर, सुन्दरता, नेहरूजी, चाचा और कौआ शब्द किसी-न-किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान, पशु-पक्षी और भाव के नाम हैं। अत: ये शब्द संज्ञाएँ हैं।

नीचे दिए गए वाक्यों में से संज्ञा शब्दों को छाँटकर लिखिए:

1. मयंक दिल्ली का रहने वाला है।
2. पुलिस ने चोर को पकड़ा।
3. नदी पहाड़ से निकलती है।
4. पुलिस सरकारी नौकर है।
5. जंगल में शेर दहाड़ रहा है।
6. चूहा बिल्ली से डरता है।
7. छात्र कक्षा में बैठे हैं।
8. माली बगीचे में काम कर रहा है।

उत्तर:
1. मयंक
2. पुलिस
3. नदी
4. पुलिस
5. शेर
6. चूहा
7. छात्र
8. माली

संज्ञा के भेद

1. व्यक्तिवाचक
2. जातिवाचक
3. भाववाचक

व्यक्तिवाचक संज्ञा

किसी विशेष व्यक्ति, प्राणी, वस्तु या स्थान आदि के नाम को व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं।
1. दादी रामयण पढ़ रही है।
2. गंगा पवित्र नदी है।
3. हिमालय सबसे ऊँचा पर्वत है।
4. भारत महान देश है।

व्यक्तिवाचक संज्ञा के कुछ अन्य उदाहरण

जब हम कहते हैं ‘हिमालय’ सबसे ऊँचा पर्वत है। तब हम दुनिया भर के सभी पर्वतों की बात नहीं कर रहे हैं। हम एक विशेष पर्वत की बात कर रहे हैं। यहाँ ‘हिमालय’ एक विशेष पर्वत का नाम है। इसी प्रकार रामायण एक विशेष ग्रंथ का नाम है। गंगा एक विशेष नदी का नाम है। भारत एक विशेष देश का नाम है। ऐसी संज्ञाओं को व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं।

कुछ व्यक्तिवाचक संज्ञाएँ महात्मा गाँधी, जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी, सचिन तेंदुलकर, साइना नेहवाल, लता मंगेशकर, चेतक (घोड़ा), लालकिला, ताजमहल, कुतुबमीनार, रामायण, लता, कुरान, बाइबिल, गंगा, यमुना, कावेरी, हिमायल, दिल्ली, जर्मनी, अमेरिका, पकिस्तान, नेपाल, ट्रंप आदि।

जातिवाचक संज्ञा

जिस संज्ञा शब्द से किसी प्राणी, वस्तु, स्थान आदि की पूरी जाति का बोध होता है, उसे जातिवाचक संज्ञा कहते हैं।
1. कुर्सी बैठने के काम आता है।
2. चाची जी घर पर हैं।
3. गाय घास खाती है।
4. लड़का पुस्तक पढ़ता है।

जब हम कहते हैं, कुरसी बैठने के काम आती है, तब हम सभी कुरसियों की बात करते हैं क्योंकि सभी कुरसियाँ बैठाने के काम आती हैं। कुरसी शब्द से हम उसकी पूरी जाति की बात करते हैं। इसलिए यह जातिवाचक संज्ञा है।

ऊपर के वाक्यों में कुर्सी, चाचीजी, घर, गाय, लड़का संज्ञा शब्द अपनी पूरी जाति को सूचित करते हैं। इसलिए ये सभी जातिवाचक संज्ञाएँ हैं।

जातिवाचक संज्ञा के अन्य उदाहरण

घर, तोता, मोर, पहाड़, नदी, पेड़, बगीचा, आदमी, लड़की, शिक्षक, गाय, शहर, रास्ता, मेज, पुस्तक आदि।

भाववाचक संज्ञा

जिस संज्ञा शब्द से किसी प्राणी या वस्तु के किसी गुण, भाव या दशा (अवस्था) का बोध होता हो, उसे भाववाचक संज्ञा कहते हैं।
उदाहरण
1. सभी से प्रेम करो।
2. खीर में मिठास है।
3. बुराई मत करो।
4. फूलों की सुगंध चारों ओर फैल गई।

जब हम कहते हैं, ‘खीर में मिठास है ’ तब हम आम की मिठास को महसूस कर सकते हैं, उसे देख, पकड़ या छू नहीं सकते और न ही उसका चित्र बना सकते हैं क्योंकि मिठास एक गुण का नाम है। इसी प्रकार प्रेम, बुराई और सुगंध भी किसी भाव या विशेषता के नाम हैं। अत: ये भी संज्ञाएँ हैं। ऐसी संज्ञाओं को भाववाचक संज्ञा कहते हैं।

भाववाचक संज्ञा के कुछ अन्य उदाहरण

प्यार, नफरत, हँसी, दुख, दर्द, ध, खुशी, बुढ़ापा, बचपन, मेहनत, आज्ञा, भलाई, आज़ादी, अपमान आदि।

नीचे दिए गए वाक्यों में से व्यक्तिवाचक संज्ञाओं को रेखांकित कीजिए

1. ताजमहल आगरा में है।
2. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ है।
3. महात्मा गांधी की समाधि को राजघाट कहते हैं।
4. करोल बाग नई दिल्ली का एक बड़ा बाज़ार है।
5. न्यूयॉर्क अमेरिका का सबसे बड़ा शहर है।
6. जतिन खेल रहा है।
7. विराट कोहली के शतक से पाकिस्तान मैच हार गया ।
8. महेश के पास आई-10 कार है।
9. महाराणा प्रताप का घोड़ा ‘चेतक’ हवा से बातें करता था।

उत्तर:
1. ताजमहल
2. उत्तरप्रदेश
3. महात्मा गांधी
4. करोल बाग़
5. न्यूयार्क
6. जतिन
7. विराट कोहली
8. महेश
9. चेतक

नीचे दिए गए वाक्यों में जातिवाचक संज्ञाओं को छाँटकर लिखिए

1. घर के पास एक पार्क है।
2. बाग में मोर नाच रहा है।
3. बालिका अपने भाई के साथ खेल रही है।
4. शहर के बाहर एक कुआँ है।
5. कुत्ता एक वफादार जानवर है।
6. दादा जी ने वृक्ष लगााए।

उत्तर:
1. घर, पार्क
2. बाग़
3. बालिका
4. शहर
5. कुता
6. दादाजी, वृक्ष

नीचे दिए गए वाक्यों में से भाववाचक संज्ञाएँ छाँटकर लिखिए

1. हमेशा दूसरो की भलाई करो।
2. उसे अपना बचपन बहुत याद आता है।
3. आम में मिठास नहीं है।
4. यह गर्मी का मौसम है।
5. हमें हर काम में सफलता मिल रही है।
6. चारों ओर हरियाली है।

उत्तर:
1. भलाई
2. बचपन
3. मिठास
4. गर्मी
5. सफलता
6. हरियाली

संज्ञा तथा उसके भेद
एनसीईआरटी कक्षा 4 हिंदी व्याकरण पाठ 5 संज्ञा तथा उसके भेद
4 हिंदी व्याकरण पाठ 5 संज्ञा तथा उसके भेद
कक्षा 4 हिंदी व्याकरण पाठ 5 संज्ञा तथा उसके भेद
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 4 हिंदी व्याकरण संज्ञा तथा उसके भेद
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 4 हिंदी व्याकरण पाठ 5
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 4 हिंदी व्याकरण अध्याय 5 संज्ञा तथा उसके भेद