कक्षा 3 हिंदी व्याकरण अध्याय 1 भाषा और व्याकरण

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 हिंदी व्याकरण अध्याय 1 भाषा और व्याकरण पर आधारित प्रश्न उत्तर सीबीएसई और राजकीय बोर्ड सत्र 2022-2023 के लिए यहाँ से प्राप्त किए जा सकते हैं। कक्षा 3 हिंदी ग्रामर के पाठ 1 में हम सीखेंगे कि भाषा किसे कहते हैं तथा इसके लिखित और मौखिक प्रकार क्या होते हैं। छात्र यहाँ लिपि और बोली जाने वाली भाषाओँ के बारे में भी संक्षिप्त रूप से पढेंगे।

कक्षा 3 के लिए हिंदी व्याकरण अध्याय 1 भाषा और व्याकरण

कक्षा 3 के लिए हिंदी मीडियम ऐप

iconicon

भाषा

भाषा भावों के आदान-प्रदान का वह साधन है जिसके द्वारा हम अपने मन के भावों को लिखकर अथवा बोलकर एक-दूसरे पर प्रकट करते है और उन भावों को समझते हैं।

म्याऊँ-म्याऊँ
काँव-काँव
में-में
भौं-भौं
ये सब ध्वनियाँ हैं। ध्वनियों की मदद से हम अपनी बात कहते हैं।
परंतु पशु-पक्षियों की उन ध्वनियों को भाषा नहीं कहा जाता।

उसी प्रकार कभी-कभी हम संकेत (इशारों) से भी अपने मन की बात दूसरों तक पहुँचाने कोशिश करते हैं।
चौराहे का सिपाही अपने हाथ के इशारों से वाहनों को ‘रूकने और चलने का संकेत करता है।
बच्चे वाहन चलाने वाले चौराहे पर खड़े सिपाही की बात अच्छी तरह से समझ भी जाते हैं। पर संकेतों के इन रूपों को भी भाषा नहीं कहा जाता है। भाषा केवल बोली और लिखी जा सकती है।

भाषा के प्रकार

भाषा दो प्रकार की होती है
1. मौखिक भाषा (बोलकर)
2. लिखित भाषा (लिखकर)

मौखिक भाषा

जब कोई व्यक्ति बोलकर अपनी बात दूसरों तक पहुँचाता है, तो भाषा का यह रूप मौखिक कहलाता है। जैसे- कक्षा में अध्यापक जी का पढ़ना, नेता जी का भाषण देना, दो मित्रों की बातचीत आदि।

लिखित भाषा

जब कोई व्यक्ति लिखकर अपनी बात दूसरों तक पहुँचाता है तथा दूसरा व्यक्ति उसे पढ़कर उसकी बात को समझ लेना है, तो यह भाषा का लिखित रूप है। जैसे- परीक्षा में बच्चों द्वारा प्रश्नों के उत्तर लिखना, किसी को पत्र द्वारा अपनी बात कहना आदि।

अतः भाषा की परिभाषा इस प्रकार दी जा सकती है भाषाएँ अनेक हैं संसार के अलग-अलग देशों में अलग-अलग भाषाओं का प्रयोग होता है, जैसे-चीन में चीनी, जर्मनी में जर्मन, रूस में रूसी, इंग्लैंड में अंग्रेज़ी, जापान में जापानी, ईरान में फारसी आदि। भारत में अनेक भाषाएँ बोली और लिखी जाती है। भारत की स्थिति संसार के अन्य देशों से अलग है। संसार के प्रत्येक देश में प्रायः एक-एक भाषा का प्रयोग किया जाता है, पर भारत में अनेक भाषाओं का प्रयोग किया जाता है। भारतीय संविधान में अट्ठारह भारतीय भाषाओं को मान्यता प्रदान की गई है।
उन सबकी जानकारी अपने शिक्षक से प्राप्त कीजिए।

हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा है।
संविधान सभा ने 14 सितंबर 1949 को हिंदी को भारत की राजभाषा के रूप में स्वीकार किया था।

लिपि

प्रत्येक भाषा की अपनी एक लिपि होती है। लिपि का अर्थ है, ध्वन्यात्मक संकेत चिहन। जैसे- हिंदी का वर्ण ‘क’ है। उसी वर्ण के लिए अग्रेजी में ‘K’ वर्ण है। (भाषाओं के लिखने के ढंग को लिपि कहते है।) हिंदी जिस लिपि में लिखी जाती है, उसे देवनागरी कहते हैं।

व्याकरण

व्याकरण वह शास्त्र है, जिसके द्वारा हम भाषा को सही रूप से बोलना, पढ़ना और लिखना सीखते हैं।

माता जी अमर से पूछा, “बेटा, केला खाओगे या आम?” अमर ने कहा, “मैंने आमा खाना है।” माताजी तुरंत बोली, अरे! यह तो गलत वाक्य है। कहो- “मुझे आम खाना है।”
इस प्रकार कभी-कभी हम गलत या अशुद्ध भाषा का प्रयोग कर देते हैं। लेकिन हमें कैसे पता चले कि कौन-सी भाषा शुद्ध है और कौन-सी अशुद्ध ।
व्याकरण हमें भाषा के नियमों की जानकारी देता है तथा सही-सही बोलना, पढ़ना और लिखना सिखाता है।

स्मरणीय तथ्य

भाषा से हम अपने विचार प्रकट करते हैं।
हम अपने विचार लिखकर और बोलकर प्रकट करते हैं।
हमारी राष्ट्रीय भाषा हिंदी हैं। भाषा के लिखित रूप को लिपि कहते हैं।

सांकेतिक भाषा किसे कहते हैं?

ऐसी भाषा जिसमें न वाणी का इस्तेमाल हो और न ही लेखन का इस्तेमाल हो केवल इशारों से प्रस्तुत की जाय उसे सांकेतिक भाषा कहते हैं। जैसे: चौराहे पर खडा यातायात नियंत्रण करने वाला सिपाही हाथ के संकेतों से यातायात को नियंत्रित करता है।

भाषा के कितने रूप होते हैं?

भाषा के तीन रूप होते हैं:
मौखिक भाषा
लिखित भाषा
सांकेतिक भाषा

दिए गए बहुविकल्पीय प्रश्नों के उत्तर छांटकर लिखिए:

Q1

बच्चा सबसे पहले सीखता है:

[A]. लिखित भाषा
[B]. मौखिक भाषा
[C]. सांकेतिक भाषा
Q2

मुख से निकलने वाली ध्वनियों के संकेत चिह्न क्या कहलाते हैं?

[A]. शब्द
[B]. वर्ण
[C]. अक्षर
[D]. लिपि
Q3

हमारे देश की कितनी भाषाओं को संविधान से मान्यता प्राप्त हुई है?

[A]. दस
[B]. बाइस
[C]. अठारह
[D]. बारह
Q4

हिंदी दिवस प्रतिवर्ष किस दिन मनाया जाता है?

[A]. 15 अगस्त
[B]. 26 जनवरी
[C]. 14 नवंबर
[D]. 14 सितंबर

भाषा किसे कहते हैं?

भाषा भावों के आदान-प्रदान का वह साधन है जिसके द्वारा हम अपने मन के भावों को लिखकर अथवा बोलकर एक-दूसरे पर प्रकट करते है और उन भावों को समझते हैं।

भाषा के कितने अंग होते हैं? उनके नाम लिखिए?

भाषा के तीन अंग होते हैं:
1. वर्ण
2. शब्द
3. वाक्य

व्याकरण की परिभाषा लिखिए?

व्याकरण वह विद्या है जिसके अंतर्गत बोलचाल और साहित्य में प्रयुक्त भाषा के स्वरूप, उसके गठन, अवयवों तथा प्रकारों, उनके पारस्परिक संबंधों और रचना विधान तथा रूप परिवर्तन का विवेचन किया जाता है।

लिपि किसे कहते है?

लिपि का अर्थ है, ध्वन्यात्मक संकेत चिहन। जैसे- हिंदी का वर्ण ‘क’ है। उसी वर्ण के लिए अग्रेजी में ‘K’ वर्ण है। (भाषाओं के लिखने के ढंग को लिपि कहते है।)

निम्नलिखित कथनों को पढ़कर उनमें से सही और गलत छांटकर लिखिए:

1. भाषा भावों को समझने का साधन हैं।
2. भाषा के लिखित तथा मौखिक दो रूप होते हैं।
3. बोली को भाषा नहीं कहा जा सकता है।
4. संसार में सारे लोग एक ही भाषा बोलते हैं।
5. व्याकरण की जानकारी से भाषा की अशुद्धि पकड़ सकते हैं।

उत्तर:
1. सही
2. सही
3. सही
4. गलत
5. सही

प्रदेश और भाषा का मिलान कीजिए:
राज्यभाषा
बंगालमराठी
कर्नाटककन्नड़
महाराष्ट्रकश्मीरी
कश्मीरबंगला
राज्यभाषा
बंगालबंगला
कर्नाटककन्नड़
महाराष्ट्रमराठी
कश्मीरकश्मीरी
निम्नलिखित आवाजों को निकालने वाले पशु/ पक्षियों के नाम लिखिए:

1. में-में
2. भौं-भौं
3. ची-ची
4. गूटरगूं-गूटरगूं
5. काँव-काँव
6. म्याऊँ-म्याऊँ

उत्तर:
1. बकरी
2. कुता
3. गौरेया
4. कबूतर
5. कौआ
6. बिल्ली

कक्षा 3 हिन्दी व्याकरण का अध्याय 1 को छात्र कितने समय में तैयार कर सकते हैं?

इस अध्याय को छात्र एक दिन में तैयार कर सकते हैं।

क्या कक्षा 3 हिन्दी व्याकरण अध्याय 1 को छात्र आसानी से तैयार कर सकते हैं?

अध्याय में भाषा सम्बन्धी ज्ञान के बारे में बताया गया है अतः छात्र आसानी से इस पाठ को तैयार कर सकते हैं।

क्या हिन्दी व्याकरण कक्षा 3 के अध्याय 1 छात्रों के लिए रुचिकर है?

यह अध्याय रुचिकर है क्योंकि इसमें देश भर में विभिन्न राज्यों में बोली जाने वाली भाषाओं के बारे में बताया गया है।

हिन्दी व्याकरण कक्षा 3 के अध्याय 1 को पढ़ते समय किन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए ?

इस अध्याय में कुछ भाग अत्यंत महत्वपूर्ण हैं जैसे भारत में बोली जाने वाली भाषाएं तथा भाषा के विभिन्न पहलुओं के बारे में छात्रों को ध्यान से अध्ययन करना चाहिए।

एनसीईआरटी कक्षा 3 हिंदी व्याकरण अध्याय 1 भाषा और व्याकरण
कक्षा 3 हिंदी व्याकरण अध्याय 1 भाषा और व्याकरण
कक्षा 3 हिंदी व्याकरण भाषा और व्याकरण
कक्षा 3 हिंदी व्याकरण अध्याय 1
कक्षा 3 हिंदी व्याकरण अध्याय 1 भाषा
कक्षा 3 के लिए हिंदी व्याकरण अध्याय 1