कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 एनसीईआरटी समाधान – बल तथा दाब

कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 के लिए एनसीईआरटी समाधान सलूशन – बल तथा दाब के सभी प्रश्न उत्तर अंग्रेजी और हिंदी मीडियम में विडियो तथा पीडीएफ के साथ यहाँ दिए गए हैं। वर्ग 8 विज्ञान पाठ 11 के सभी सवाल जवाब विद्यार्थी इस पेज से सरल भाषा में प्राप्त कर सकते हैं। विडियो में पाठ के विवरण के साथ साथ प्रत्येक प्रश्न के उत्तर को समझाया गया है। कक्षा 8 विज्ञान के ये समाधान सीबीएसई सिलैबस 2022-2023 के अनुसार संशोधित किए गए हैं। जो विद्यार्थी मोबाइल के माध्यम से पढ़ते हैं वे कक्षा 8 विज्ञान ऑफलाइन ऐप का प्रयोग करके आसानी से सभी समाधान प्राप्त कर सकते हैं।

कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 के लिए एनसीईआरटी समाधान

कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

धक्के या खिंचाव के द्वारा वस्तुओं की गति की अवस्था में परिवर्तन के दो-दो उदाहरण दीजिए।

गेंद को मारना तथा वापस हमारे पास आना।
फुटबॉल को मारना।

ऐसे दो उदाहरण दीजिए जिनमें लगाए गए बल द्वारा वस्तु की आकृति में परिवर्तन हो जाए।

रबर बेल्ट का खिचना।
मिट्टी को खिलौने बनाने के लिए आकार देना

एक औज़ार बनाते समय कोई लोहार लोहे के गर्म टुकड़े को हथौड़े से पीटता है। पिटने के कारण लगने वाला बल लोहे के टुकड़े को किस प्रकार प्रभावित करता है?

पिटने के कारण लगने वाला बल लोहे के टुकड़े के आकार को बदल देता है।

एक फुलाए हुए गुब्बारे को संश्लिष्ट कपड़े के टुकड़े से रगड़कर एक दीवार पर दबाया गया। यह देखा गया कि गुब्बारा दीवार से चिपक जाता है। दीवार तथा गुब्बारे के बीच आकर्षण के लिए उत्तरदायी बल का नाम बताइए।

गुब्बारे और दीवार के बीच आकर्षण के लिए जो बल जिम्मेदार है, स्थिरवैद्युत बल है। जब हम गुब्बारे को संश्लिष्ट कपड़े से रगड़ते हैं, तो वह प्रभारित हो जाता है। जब इसे दीवार के पास ले जाया जाता है, यह स्थिरवैद्युत बल के कारण अनावेशित दीवार की ओर आकर्षित होने लगता है जो एक आवेशित शरीर द्वारा एक और अनावेशित शरीर पर लगाया गया बल है।

आप अपने हाथ में पानी से भरी एक प्लास्टिक की बाल्टी लटकाए हुए है। बाल्टी पर लगने वाले बलों के नाम बताइए। विचार–विमर्श कीजिए की बाल्टी पर लगने वाले बलों द्वारा इसकी गति अवस्था में परिवर्तन क्यों नहीं होता।

प्लास्टिक की बाल्टी पर लगने वाले बल हैं:
1. गुरुत्वाकर्षण बल: यह बल नीचे की ओर लग रहा हैं।
2. मांसपेशियों का बल: यह हमारे हाथों द्वारा बाल्टी को ऊपर की दिशा में उठाने के लिए लग रहा है।
हालांकि ये बल बाल्टी पर काम कर रहे हैं लेकिन इसकी गति अवस्था में परिवर्तन नहीं रहा है क्योंकि दोनों बल एक दूसरे को संतुलित कर रहे हैं और परिणामस्वरूप बल शून्य है।

कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 के प्रश्न उत्तर विस्तार से

बल के प्रभाव कौन कौन से हैं?

बल के प्रभाव:
1. बल गतिशील या विश्रामावस्था को परिवर्तित कर देता है। जैसे – विश्राम अवस्था में रखी फुटबॉल पैर द्वारा प्रहार करने पर गतिशील हो जाती है कुछ गति से आती हुई वस्तु को पकड़ना जैसे बल्ले द्वारा गेंद पर प्रहार; गति कम हो जाती है जब गतिशील वस्तु पर बल, गति की विपरीत दिशा में लगाया जाता है।
2. बल गतिशील वस्तु की दिशा परिवर्तन कर देता है। बहुत से खेलों में गेंद की गति की दिशा को देखा जा सकता है जिसमें बल्ले, रैकेट, पैर या हाथ द्वारा बल का प्रयोग किया जाता है। लगाए गए बल की दिशा में खींची गई रेखा को बल की क्रिया-रेखा कहा जाता है।
3. बल द्वारा आकृति तथा आकार में परिवर्तन होता है। प्रतिदिन ऐसे विभिन्न अनुभव तथा घटनाएँ होती हैं जिसमें बल के प्रयेाग द्वारा उन वस्तुओं की आकृति तथा आकार में परिवर्तन दिखाई देता है।

    • अनाज से भरे थैले को दबाने से उसकी आकृति में परिवर्तन हो सकता है।
    • स्पंज को बल द्वारा निचोड़ने पर उसकी आकृति परिवर्तित हो जाती है।
    • बल द्वारा रबड़ बैंड को खींचने पर उसकी आकृति तथा आकार परिवर्तित हो जाता है।
    • कुशन पर बैठने से उसकी आकृति परिवर्तित हो जाती है।
संपर्क तथा असंपर्क बल क्या हैं?

संपर्क बल:
जब कोई बल वस्तु या पिंड के संपर्क में होता है, तो वह बल संपर्क बल कहलाता है। सभी यांत्रिक बल इसी श्रेणी के अंतर्गत आते हैं। संपर्क बल के उदाहरण:
घर्षण बल: जब कोई वस्तु गति में होती है तो उसकी दिशा के विपरीत दिशा में एक विरोधी बल कार्य करता है जो उसे गतिशील होने से रोकता है। इस विरोधी बल को घर्षण बल कहते हैं। यह बल दो पिंडों या वस्तुओं के मध्य कार्य करता है।
इसके अलावा संपर्क बल में हाथ या पैर की मदद से लगने वाला बल भी आता है। जैसे हाथों की सहायता से कार को धक्का देना, पेशीय बल कहलाता है। बैल खेतों में हल खींचते हैं, यह भी पेशीय बल होता है।
असंपर्क बल:
जब कोई वस्तु या पिंड एक-दूसरे के संपर्क में नहीं होते हैं तब उन पर असंपर्क बल कार्य करता है। दो पिंडों के मध्य यह बल लगता है। यह बल जिस क्षेत्र में कार्य करता है उसे बल क्षेत्र कहते हैं। असंपर्क बल के उदाहरण:
चुंबकीय बल: चुंबक के विपरीत ध्रुवों के मध्य आकर्षण ही चुंबकीय बल कहलाता है।
गुरुत्वाकर्षण बल: ब्रह्मांड में प्रत्येक पिंड एक-दूसरे को अपनी ओर खींचता है। इस आकर्षण बल को ही गुरुत्वाकर्षण कहते हैं। इसी बल के कारण पृथ्वी सूर्य के चक्कर लगाती है।
स्थिर विद्युत बल: एक आवेश वाली वस्तु या पिंड जब किसी दूसरे आवेश वाले पिंड या वस्तु से आकर्षित होती है, तब यह बल कार्य करता है। दोनों पिंडों में से एक पिंड का आवेशित होना जरूरी है।

घर्षण बल क्या होता है?

घर्षण बल एक प्रकार का विरोधी बल है, जो वस्तु की गति का विरोध करता है। घर्षण बल हमेशा गति का विरोध करता है अर्थात्‌ जब किसी वस्तु पर बाह्‌य बल आरोपित किया जाता है तो घर्षण बल इस बाह्‌य बल के विपरीत कार्य करता है। घर्षण बल दो प्रकार का होता है:

    • 1. स्टैटिक घर्षण
      जब किसी वस्तु पर बाह्‌य बल कार्य करता है लेकिन फिर भी वस्तु गति नहीं करती है तो बल के विपरीत जो घर्षण बल कार्य करता है उसे स्टैटिक घर्षण बल कहते हैं। यदि बल का मान धीरे-धीरे बढ़ाया जाए और जब तक वस्तु गति शुरू नहीं कर दे तब तक उस पर स्टैटिक घर्षण बल कार्यरत रहता है।
    • 2. सर्पी अथवा गतिज घर्षण
      अब यदि बाह्‌य बल को धीरे-धीरे बढ़ाया जाए तो वह धीरे-धीरे गति करने लगती है जब वस्तु गति करना शुरू कर दे तो उसकी सतहों के मध्य जो घर्षण बल कार्य करता है उसको गतिज घर्षण कहते हैं।

कक्षा 8 विज्ञान पाठ 11 के कुछ अतिरिक्त प्रश्न उत्तर

किसी उपग्रह को इसकी कक्षा में प्रमोचित करने के लिए किसी रॉकेट को ऊपर की ओर प्रक्षेपित किया गया। प्रमोचन मंच को छोड़ने के तुरंत बाद रॉकेट पर लगने वाले दो बलों के नाम बताइए।

प्रमोचन मंच छोड़ने के तुरंत बाद रॉकेट पर लगने वाले दो बल हैं:

    • घर्षण बल: वायु के कारण।
    • गुरुत्वाकर्षण का बल: नीचे की दिशा में खींच रहा है।
दो महिलाओं के भार बराबर हैं। एक ने नुकीली एड़ी की सैन्डल पहनी है जबकि दूसरी ने चपटे तले की सैन्डल पहनी है। किसी रेतीले समुद्रतट पर घूमते समय दोनों महिलाओं में कौन अधिक सुविधा अनुभव करेगी? अपने उत्तर का कारण बताइए।

चपटे तले की सैन्डल पहनने वाली महिला रेतीले समुद्र तट पर घूमते समय अधिक सुविधा अनुभव करेगी। चपटे तले का क्षेत्रफल नुकीली एड़ी की सैन्डल के तले की अपेक्षा अधिक है। क्योंकि दोनों महिलाओं का भार समान है, इसलिए वे धरती पर समान बल लगाएंगी। इसलिए, नुकीली एड़ी द्वारा लगाया गया दाब चपटे तले की सैन्डल द्वारा लगाए गए दाब की अपेक्षा अधिक होगा। परिणामस्वरुप, नुकीली एड़ी की सैन्डलें चपटे तले की सैन्डलों की अपेक्षा रेत में अधिक धंसेगी। अत: चपटे तले की सैन्डलों द्वारा घूमना अधिक आरामदायक होगा।

‘‘किसी फूले गुब्बारे को अंगुली की अपेक्षा सुई से फोड़ना अधिक आसान है।’’ व्याख्या कीजिए।

जब हम किसी फूले हुए गुब्बारे को किसी सुर्इं से फोड़ते हैं तो यह अधिक दाब लगाती है क्योंकि इसका सम्पर्क क्षेत्रफल अंगुली की अपेक्षा कम है। अधिक दाब गुब्बारे की सतह को आसानी से बंध देता है।

कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11: बल तथा दाब के उत्तर
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11एनसीईआरटी समाधान
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 एनसीईआरटी पुस्तक के हल
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 एनसीईआरटी की किताब
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 एनसीईआरटी
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 एनसीईआरटी बुक
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 एनसीईआरटी पुस्तक
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 एनसीईआरटी पाठ्यपुस्तक
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 की किताब
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 बुक
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 की पुस्तक
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 11 की किताब
8वीं विज्ञान पाठ 11
8वीं विज्ञान पाठ 11 एनसीईआरटी
8वीं विज्ञान पाठ 11 की किताब
8वीं विज्ञान पाठ 11 की बुक
8वीं विज्ञान पाठ 11 की किताब पठन
8वीं विज्ञान पाठ 11 के मुख्य शब्द
8वीं विज्ञान पाठ 11 के अभ्यास के प्रश्न उत्तर
8वीं विज्ञान पाठ 11 प्रयोग
8वीं विज्ञान पाठ 11 किताब