कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 एनसीईआरटी समाधान – फसल उत्पादन एवं प्रबंध

कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 के लिए एनसीईआरटी समाधान (सलूशन) – फसल उत्पादन एवं प्रबंध अभ्यास के प्रश्न उत्तर हिंदी और अंग्रेजी मीडियम विडियो तथा पीडीएफ मुफ्त डाउनलोड करें। वर्ग 8 विज्ञान पाठ 1 के सभी सवाल जवाब सरल भाषा में यहाँ दिए गए हैं। ये सभी समाधान सीबीएसई सिलैबस 2022-2023 को ध्यान में रखकर बनाए गए हैं। सीबीएसई, यूपी, एमपी, बिहार तथा अन्य राजकीय बोर्ड के छात्र इस पठन सामाग्री का लाभ निशुल्क उठा सकते हैं। मोबाइल फोन के माध्यम से पढ़ने वाले विद्यार्थी कक्षा 8 विज्ञान ऑफलाइन ऐप का भी प्रयोग कर सकते हैं।

कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 के लिए एनसीईआरटी समाधान

कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

निम्न पर अपने शब्दों में एक-एक पैराग्राफ लिखिए: (क) मिट्टी तैयार करना (ख) बुआई (ग) निराई (घ) थ्रेशिंग

(क) मिट्टी तैयार करना
फसल उगाने से पहले मिट्टी तैयार करना पहला कदम है। कृषि में सबसे महत्वपूर्ण कार्यों में से एक मिट्टी को पलटना और इसे ढीला करना है। इससे जड़ें मिट्टी में गहराई तक प्रवेश कर सकती हैं। ढीली मिट्टी से केंचुओं और रोगाणुओं के पनपने में मदद मिलती है जो किसान के मित्र हैं और यह मिट्टी में ह्यूमस मिलाते हैं। साथ ही, मिट्टी को पलटने और ढीला करने से पोषक तत्वों से भरपूर मिट्टी सबसे ऊपर आती है ताकि पौधे इन पोषक तत्वों का उपयोग कर सकें।
(ख) बुआई
बुआई फसल उत्पादन का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। बुआई से पहले, अच्छी गुणवत्ता वाले बीज चुने जाते हैं। अच्छी किस्म के बीज अच्छे किस्म के स्वच्छ और स्वस्थ बीज होते हैं बीज को सीड ड्रिल या हाथ से बोया जा सकता है।
(ग) निराई
खरपतवार अवांछित पौधे हैं जो फसलों के साथ उगते हैं और खरपतवार निकालने को निराई के रूप में जाना जाता है। हाथों से खुरपी जैसे औजारों का उपयोग करके या 2, 4 – D जैसे घास – फूस नाशी (वेडाईसाइड्स) का उपयोग करके खरपतवारों को हटाया जा सकता है। खेतों में खरपतवार को मारने के लिए इनका छिड़काव किया जाता है।
(घ) थ्रेशिंग
पयालों से अनाज को अलग करने की प्रक्रिया को थ्रेशिंग कहा जाता है। इसे ‘कंबाइन’ नामक मशीन की सहायता से किया जाता है, जो वास्तव में एक हार्वेस्टर है और थ्रेशर का संयोजन है।

निम्न के दो – दो उदाहरण दीजिए: (क) खरीफ़ फसल (ख) रबी फसल।

(क) खरीफ़ फसल: धान, मक्का, सोयाबीन, मूंगफली, कपास, आदि।
(ख) रबी फसल: गेहूं, चना, मटर, सरसों, आदि।

सिंचाई किसे कहते है? जल संरक्षित करने वाली सिंचाई को दो विधियों का वर्णन कीजिए।

विभिन्न अंतरालों पर फसलों को पानी की आपूर्ति को सिंचाई कहा जाता है। सिंचाई की दो विधियाँ जो पानी का संरक्षण करती है वे इस प्रकार है:
छिंडकव प्रणाली:
इस विधि के तहत, लंबवत पाइप, शीर्ष पर नोजल को घुमाते हुए, नियमित अंतराल पर मुख्य पाइप लाइन से जुड़ जाते हैं। जब एक पंप की मदद से पानी को मुख्य पाइप के माध्यम से बहने दिया जाता है, यह घूर्णन नलिका से बच जाता है। छिड़का जाता है जैसे कि बारिश हो रही है।
ड्रिप प्रणाली:
इस प्रणाली में, पानी पौधों के जड़ो में एक –एक बूंद करके पहुँचता है। यह फलों के पौधों, बगीचों और पेड़ों को पानी देने की सबसे अच्छी तकनीक है। पानी बिल्कुल भी व्यर्थ नहीं जाता है। यह उन क्षेत्रों में एक वरदान है जहां पानी की उपलब्धता खराब है।

यदि गेहूं को खरीफ ऋतु में उगाया जाए तो क्या होगा? चर्चा कीजिए।

गेहूं रबी की फसल है, इसलिए इसे ठीक से बढ़ने के लिए ठंडी जलवायु परिस्थितियों की आवश्यकता होती है। यदि इसे खरीफ मौसम में बोया जाता है, खरीफ के मौसम में अत्यधिक बारिश के कारण यह विकसित नहीं होगा या नष्ट हो सकता है।

खेत में लगातार फसल उगाने से मिट्टी पर क्या प्रभाव पड़ता है?

मिट्टी फसल को खनिज पोषक तत्वों की आपूर्ति करती है। ये पोषक तत्व पौधों की वृद्धि के लिए आवश्यक हैं। एक ही खेत में फसलों के लगातार उगाने से मिट्टी कुछ पोषक तत्वों में खराब हो जाती है। इससे मिट्टी अनुपजाऊ हो जाती है। और फिर, पोषक तत्वों के साथ मिट्टी को फिर से भरने के लिए किसानों को मिट्टी में खाद जोड़ने की आवश्यकता होती है।

खरपतवार क्या है? हम उनका नियंत्रण कैसे कर सकते है?

अवांछनीय पौधे फसल के साथ-साथ प्राकृतिक रूप से उग सकते हैं जिन्हें खरपतवार कहा जाता है। खरपतवार निकालने और उनकी वृद्धि को नियंत्रित करने के कई तरीके हैं। खरपतवारों को समय-समय पर जमीन के करीब उखाड़कर या काटकर हटाया जा सकता है। यह एक खुरपी की मदद से किया जाता है। खरपतवारों को कुछ रसायनों के प्रयोग से भी नियंत्रित किया जाता है, जिन्हें 2, 4-डी की तरह घास – फूस नाशी (वेडाईसाइड्स) कहा जाता है। खेतों में खरपतवार को मारने के लिए इनका छिड़काव किया जाता है।

फ़सल तथा फ़सली पौधे क्या होते हैं?

हमारे देश में उगने वाली मुख्य फ़सलें हैं—अनाज, दालें, तेल, बीज, रेशा फ़सलें आदि। फ़सल एक रोपा गया पौध होता है। जब एक ही किस्म के पौधे किसी स्थान पर बड़े पैमाने पर उगाए जाते हैं, तो इसे फ़सल कहते हैं। उदाहरण के लिए गेहूँ की फ़सल का अर्थ है कि खेत में उगाए जाने वाले सभी पौधे गेहूँ के हैं। अध्कि संख्या में उगाए गए पौधें को फ़सली पौधे कहते हैं। जल, बीजों तथा मृदा की सहायता से भोजन उत्पादन की विधि तथा प्रौद्योगिकी को कृषि कहते हैं। फ़सलें विभिन्न किस्मों की होती हैं।

कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 के प्रश्न उत्तर विस्तार से

उर्वरक तथा खाद में अंतर

उर्वरक खाद
उर्वरक एक अकार्बनिक नमक है। यह मानव निर्मित पदार्थ है। खाद एक प्राकृतिक पदार्थ है जिसे गोबर, मानव का अपघटन अपशिष्ट और पौधों के अवशेषों से तैयार किया जाता है।
उर्वरक कारखानों में तैयार किया जाता है।खाद खेतों या गड्डों में तैयार की जाती है।
उर्वरक मिट्टी को ह्यूमस प्रदान नहीं करता है।खाद मिट्टी को भारी तादाद में ह्यूमस प्रदान करता है।
उर्वरक पौधों में बहुत समृद्ध पोषक तत्व प्रदान करता है जैसे नाइट्रोजन , फास्फोरस और पोटेशियम।खाद में अपेक्षाकृत कम पोषक तत्व होते है।
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 के वस्तुनिष्ठ प्रश्न उत्तर
Q1

मक्का उगाने के लिए निम्नलिखित में से कौन-सी परिस्थिति अनिवार्य नहीं है?

[A]. उच्च तापमान
[B]. आर्द्रता
[C]. निम्न तापमान
[D]. वर्षा
Q2

अदरक के प्रवर्ध्न में आमतौर से किसे उपयोग किया जाता है?

[A]. बीज
[B]. प्रकंदद्ध
[C]. जड़
[D]. पत्ती
Q3

जैव खाद के संदर्भ में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सही नहीं है?

[A]. यह मृदा की जलधरिता क्षमता को बढ़ा देती है।
[B]. इसमें सभी पादप पोषक संतुलित मात्राा में होते हैं।
[C]. यह मृदा को ह्‌यूमस प्रदान करती है।
[D]. इससे मृदा की बनावट बेहतर हो जाती है।
Q4

अनाज से भूसी-चोकर को अलग करने की प्रक्रिया के लिए प्रयोग किए जाने वाला शब्द है:

[A]. छानना
[B]. थ्रेसिंग
[C]. पफटकना
[D]. हाथ से चुनना
रबी और खरीफ फ़सलें क्या होती हैं?

रबी की फ़सलें: रबी फ़सलें शीत फ़सलें होती हैं। जो शीत ऋतु के आरंभ – अक्टूबर—नवंबर में उगाई जाती हैं तथा गर्मियों के आरंभ होने पर काटी जाती हैं। उदाहरण: गेहूँ, चना, जौ, आलू आदि।
खरीफ़ की फ़सलें: खरीफ़ फ़सलें गर्मी की फ़सलें हैं। ये मानसून ऋतु के आरंभ में उगाई जाती हैं तथा मानसून के अंत में काटी जाती हैं। उदाहरण: चावल, मक्का, नारियल, मूँगपफली, दाले आदि।

कक्षा 8 विज्ञान पाठ 1 के कुछ अतिरिक्त प्रश्न उत्तर

उस औशार का नाम बताइए जिसे खेत में बीज बोने के लिए ट्रैक्टर के साथ प्रयोग किया जाता है? इस औशार का उपयोग करने के क्या लाभ हैं?

औज़ार का नाम सीड—ड्रिल है।
इसके लाभ निम्नलिखित हैं:

    1. बीज समान दूरी पर और गहरायी पर बोए जाते हैं ताकि अत्यध्कि घने न हो पाएँ।
    2. बीज बोने के बाद, उन पर मिट्टी डाल दी जाती है ताकि पक्षी उन्हें न खाने पाएँ।
    3. इससे समय और मेहनत की बचत होती है।
यदि आपको खेती करने के लिए जमीन का एक सूखा खंड दिया गया है तो बताइए कि बीज बोने से पहले आप क्या कारवाही करेंगे?

बीज बोने से पहले खेत में पानी दिया जाएगा तथा जोता जाएगा। ताकि जमीन पौधों के उगने के लिए अनुकूल हो सके।

अनुकूल जलवायु—परिस्थितियाँ होने पर भी किसान को फ़सल की उपज अच्छी नहीं मिली। इसके लिए संभावी कारण बताइए।

संभावी कारण निम्नलिखित हो सकते हैं:

    1. उसने अच्छी गुणवत्ता वाले बीज नहीं बोए।
    2. उसके खेत में भलीभांति सिंचाई नहीं हुई।
    3. खादों/उर्वरकों का सही प्रकार से उपयोग नहीं किया गया।
    4. अपतृणों खरपतवार को नहीं निकाला गया।

अच्छी फ़सल को प्राप्त करने की विभिन्न विध्यिाँ हैं। ऐसी पद्धतियाँ वे कार्य हैं जिन्हें लागू करने के लिए कुछ क्रमबद्ध चरणों की
आवश्यकता होती है। वे निम्न हैं:

    1. मृदा का चुनाव, उसकी स्थिति तथा प्रकृति।
    2. मृदा तैयार करना।
    3. मृदा एकसार करना।
    4. खाद/उर्वरक डालना
    5. बीजों का बोना।
    6. निराई
    7. सिंचाई
    8. फ़सल सुरक्षा
    9. कटाई
    10. अन्न का भण्डारण
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1: फसल उत्पादन एवं प्रबंध के प्रश्न उत्तर
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 एनसीईआरटी समाधान
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 समाधान पीडीएफ़
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 के हल
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 एनसीईआरटी
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 पुस्तक
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 की किताब
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 पठन सामाग्री
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 पुस्तक
कक्षा 8 विज्ञान अध्याय 1 की बुक
8वीं कक्षा विज्ञान पाठ 1
8वीं कक्षा विज्ञान पाठ 1 की एनसीईआरटी
8वीं कक्षा विज्ञान पाठ 1 की पुस्तक
8वीं कक्षा विज्ञान पाठ 1 की किताब
8वीं कक्षा विज्ञान पाठ 1 के प्रश्न
8वीं कक्षा विज्ञान पाठ 1 पढ़ाई
8वीं कक्षा विज्ञान पाठ 1 मुख्य बिन्दु
8वीं कक्षा विज्ञान पाठ 1 अभ्यास
8वीं कक्षा विज्ञान पाठ 1 प्रश्न उत्तर
8वीं कक्षा विज्ञान पाठ 1 सारांश