कक्षा 10 हिंदी एनसीईआरटी समाधान स्पर्श गद्य अध्याय 5 अंतोन चेखव – गिरगिट

कक्षा 10 हिंदी एनसीईआरटी समाधान स्पर्श भाग 2 गद्य खंड अध्याय 5 अंतोन चेखव – गिरगिट अभ्यास के प्रश्न उत्तर, पाठ 5 स्पर्श के अतिरिक्त प्रश्न उत्तर के साथ साथ पाठ की व्याख्या आदि विद्यार्थी यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं। सीबीएसई सत्र 2022-2023 की परीक्षा के लिए वस्तुनिष्ठ बहुविकल्पीय प्रश्न (MCQ) तथा उनके उत्तर विद्यार्थी यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं। कक्षा 10 के सभी विषयों के लिए कक्षा 10 सलूशन ऐप डाउनलोड करें।

कक्षा 10 हिंदी एनसीईआरटी समाधान स्पर्श गद्य अध्याय 5 अंतोन चेखव – गिरगिट

कक्षा 10 हिंदी स्पर्श अध्याय 5 के अतिरिक्त प्रश्न उत्तर

काठगोदाम के पास भीड़ क्यों इकट्ठी हो गई थी?

कुत्ते के पिल्ले को मरने और उसे पकड़ने के लिए ख्युक्रिन उसके पीछे दौड़ रहा था और उसने काठ के गोदाम पर उसे पकड़ लिया था। उसी के कोतूहल को सुनकर भीड़ इकट्ठी हो गई थी।

उँगली ठीक न होने की स्थिति में ख्युक्रिन का क्या नुकसान हो सकता था?

ख्युक्रिन एक नामी सुनार था और उसका काम भी पेचीदा किस्म का था, जिसमें उँगली से बारीक काम किया जाता था। उंगली की चोट के कारण वह अपने काम को करने में असमर्थ था।

कुत्ता क्यों किकिया रहा था?

ख्युक्रिन की उँगली काटने के बाद जब वह भाग रहा था तो ख्युक्रिन ने पीछे से उसकी टांग पकड़ ली। कुत्ता ऊपर से नीचे तक कपकापने लगा और डर के मारे किकियाने लगा था।

बाज़ार के चौराहे पर खामोशी क्यों थी?

बाज़ार में जनशांति के लिए पुलिस इंसपेक्टर गस्त लगा रहे थे। जन शांति के आदेश के कारण बाज़ार के चौराहे पर खामोशी थी।

जनरल साहब के बावर्ची ने कुत्ते के बारे में क्या बताया था?

जनरल साहब के बावर्ची ने बताया कि यह कुत्ता जनरल साहब का नहीं है बल्कि उनके भाई का है जो थोड़ी देर पहले ही इधर पधारे है। यह कुत्ता तो बारजोयस नस्ल का है, और जनरल साहब को यह नस्ल पसंद नहीं है। उनके भाई को इस नस्ल का कुत्ता पसंद है।

ख्युक्रिन ने मुआवज़ा पाने के लिए क्या दलील दी थी?
ख्युक्रिन ने मुआवज़ा पाने के लिए अपने सुनार के काम की दलील दी जो एकदम पेचीदा किस्म का था जिसमें अधिक काम उँगली से होता है।

ख्युक्रिन ने ओचुमेलाँव को उँगली ऊपर उठाने का क्या कारण बताया था?
ख्युक्रिन ने ओचुमेलाँव को उँगली ऊपर उठाने का कारण जनरल साहब के कुत्ते द्वारा काटने को बताया था।

येल्दीरीन ने ख्युक्रिन को दोषी ठहराते हुए क्या कहा था?

येल्दीरीन ने ख्युक्रिन को दोषी ठहराते हुए कहा हुज़ूर मै जानता हूँ यह हमेशा कोई न कोई शरारत करता रहता है। जरूर इसने अपनी जलती सिगरेट से इस कुत्ते की नाक यूँ ही जला डाली होगी।

ओचुमेलाँव ने जनरल साहब के पास यह संदेश क्यों भिजवाया होगा कि उनसे कहना कि मुझे मिला और मैंने इसे वापस उनके पास भेजा है?
ओचुमेलाँव चाहता था कि जनरल साहब को जब उसके इस कार्य के बारे में पता चलेगा तो वह बहुत खुश होगे और उसकी तरक्की के बारे में जरूर सोचेगे और उन से उनकी अच्छी जान-पहचान हो जाएगी।

भीड़ ख्युक्रिन पर क्यों हँसने लगती थी?
भीड़ यह समझ गई थी कि ओचुमेलाँव गिरगिट की भाँति बदल चुका है। मुआवज़ा दिलवाना तो दूर उल्टे उसने ख्युक्रिन को ही धमकाना शुरू कर दिया। यह देख कर भीड़ ने ख्युक्रिन की हालत पर हँसना चालू कर दिया था।

ओचुमेलाँव के चरित्र की विशेषताओं को अपने शब्दों में व्याख्या कीजिए।

लेखक ने पाठ का नामकरण ‘गिरगिट’ ओचुमेलाँव के चरित्र को देख कर ही रखा है। जो पूरी कहानी में गिरगिट की भाँति रंग बदलता रहता है और एक चापलूस की तरह अपने काम को महत्व देता है। जिसे कानून से ज्यादा अपने से ऊपर वाले अधिकारी की सेवा करना अधिक प्रिय लगता है। ओचुमेलाँव जैसे चरित्र के व्यक्ति हर सरकारी विभाग के लिए एक अभिशाप है। जो अपने काम के प्रति ईमानदार न हो वह एक भष्ट कर्मचारी होता है।

किसी कील-वील से उँगली छील ली होगी-ऐसा ओचुमेलाँव ने क्यों कहा होगा?

जब किसी ने भीड़ में से कहा कि यह कुत्ता तो जरनल साहब का है, तभी से ओचुमेलाँव के स्वभाव गिरगिट की तरह बदल गया और एक चापलूस की भाँति ख्युक्रिन पर ही दोष लगाने लगा कि किसी कील-वील से उँगली छील ली होगी।

कक्षा 10 हिंदी स्पर्श गद्य अध्याय 5 के प्रश्न उत्तर
कक्षा 10 हिंदी स्पर्श गद्य अध्याय 5