एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 हिंदी अध्याय 12 जब मुझे साँप ने काटा

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 हिंदी रिमझिम अध्याय 12 जब मुझे साँप ने काटा के प्रश्न उत्तर सीबीएसई सत्र 2022-2023 के लिए पीडीएफ के रूप में मुफ़्त डाउनलोड यहाँ से कर सकते हैं। कक्षा 3 हिंदी रिमझिम पाठ 12 में कहानी उस बच्चे के आस पास घूमती रहती है जिसे साँप ने काटा था। किस तरह उसके नाना नानी बच्चे को झाड़ फूंक वाले के पास ले गए और उसका इलाज कराने लगे। पाठ 12 के अतिरिक्त प्रश्न उत्तर भी दिए गए हैं ताकि बच्चे अपनी परीक्षा की तैयारी कर सकें।

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 हिंदी अध्याय 12

कक्षा 3 के लिए समाधान ऐप

iconicon

कक्षा 3 हिंदी अध्याय 12: कहानी का सारांश

यह कहानी एक छोटे शरारती बच्चे की हैI एक दिन बच्चा घर के बाहर खेल रहा होता है उसे धीरे से रेंगते हुए एक छोटा सांप दिखाई दिया बच्चे को देखते ही सांप भागा और पास में पड़े नारियल के खोल में छिप गयाI बच्चा शरारती था उसने पत्थर से खोल का मुँह बंद कर दिया और उठाकर घर ले आयाI

बच्चा नानी से कहने लगा, देखो मैंने सांप पकड़ा है नानी उसकी बात सुनकर चिल्लाने लगी और खोल उसके हाथ से छीनकर जमीन पर फेंक दियाI खोल का मुंह खुल गया और सांप निकलकर झाड़ियों में गायब हो गयाI नाना ने बच्चे को डांटते हुए बोला खबरदार कभी सांप के पास मत जानाI उसी दिन शाम को बच्चा एक बर्र को पकड़ने की कोशिश करता है बर्र उसकी उंगली में काट लेता बच्चा दर्द से कराह उठता हैI

उसकी उंगली सूज गयी थी और जहाँ से काटा था वहां पर नीला निशान पर गया थाI नाना-नानी ने सोचा कि इसको सांप ने काट लियाI नाना उसे गोद में उठाकर एक बूढ़े आदमी के पास ले गए जो सांप के काटे का मन्त्र जानता थाI बूढ़े आदमी ने बच्चे को चुपचाप बैठने को कहा और नाना ने उसे कस के पकड़ रखा थाI बच्चा बोलना चाह रहा था कि उसे सांप ने नहीं बर्र ने काटा है लेकिन बोलने से पहिले ही उसे डांट के चुप करा दिया जाता थाI

बच्चे की उंगली का दर्द ठीक हो चुका था फिर भी बूढ़े ने पूरा ईलाज करके ही दम लियाI साथ में यह भी कह रहा था कि इस बच्चे को बहुत जहरीले सांप ने काटा था समय पर ले आये इसलिए ठीक हो गयाI सभी लोग प्रसन्न थे तथा नाना ने उसके लिए बहुत सारे उपहार भिजवायेI

नाना मुझे झाड़-फूँक वाले आदमी के पास क्यों ले गए?

उत्तर:
नाना ने सोचा कि मुझे सांप ने काट लिया इसलिए नाना मुझे झाड़-फूँक वाले आदमी के पास क्यों ले गएI

मैं बूढ़े आदमी को क्या बताना चाहता था?

उत्तर:
मैं बूढ़े आदमी को बताना चाहता था कि मुझे सांप ने नहीं बल्कि बर्र ने काटा थाI

जब साँप नारियल के खोल में घुस गया तो मैंने क्या किया था? मैंने ऐसा क्यों किया होगा?

उत्तर:
जब साँप नारियल के खोल में घुस गया तो मैंने उसको पत्थर से बंद कर दिया थाI यह मेरे दिमाग की शरारत थी।

क्या बूढ़े आदमी ने सचमुच मेरा इलाज कर दिया था? तुम ऐसा क्यों सोचते हो?

उत्तर:
बूढा आदमी मेरी उस बीमारी का ईलाज कर रहा था जो थी ही नहीं। काटा बर्र ने था ईलाज सांप का हो रहा था।

कक्षा 3 हिन्दी अध्याय 12 में मुख्य किरदार किसका है और उसका चरित्र कैसा है?

कहानी का मुख्य पात्र एक शरारती बच्चा है जो कि शरारत करने से बाज नहीं आता उसके इस स्वभाव से सभी लोग परेशान होते हैं।

हिन्दी कक्षा 3 के अध्याय 12 छात्रों के लिए कितना रुचिकर है?

बच्चे का नटखट चरित्र सभी को हंसने पर मजबूर कर देता है। बच्चों के कहानी हास्य और विनोद से भरपूर है।

कक्षा 3 हिन्दी का अध्याय 12 का आशय क्या है?

कहानी संकेत करती है कि लोग वास्तविकता से ज्यादा अंधविश्वास पर भरोसा करते हैं।

कक्षा 3 हिंदी अध्याय 12 अभ्यास पुस्तिका
कक्षा 3 हिंदी अध्याय 12 अभ्यास के प्रश्न उत्तर
कक्षा 3 हिंदी अध्याय 12 अभ्यास के प्रश्न
कक्षा 3 हिंदी अध्याय 12 अभ्यास के उत्तर
कक्षा 3 हिंदी अध्याय 12 अभ्यास के लिए किताब
कक्षा 3 हिंदी अध्याय 12 अभ्यास