एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 24

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 24 जीवन का जाल (कक्षा 3 पर्यावरण पाठ 24) के उत्तर हिंदी में सीबीएसई और राजकीय बोर्ड के विद्यार्थी सत्र 2023-24 के लिए यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं। विद्यार्थियों की सुविधा के लिए कक्षा 3 के पर्यावरण अध्ययन के पाठ 24 को विडियो के माध्यम से भी समझाया गया है। विद्यार्थी इसकी मदद से आसानी से पूरे पाठ को समझ सकते हैं।

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 24

प्रकृति का महत्त्व

प्रस्तुत पाठ में मनुष्य अपने जीवन में किन-किन वस्तुओं से घिरा व जुड़ा हुआ है, के बारे में बताया गया है। सबसे पहले मनुष्य जीवन को प्रकृति की जरूरत से जोड़ा गया है। मनुष्य को प्रकृति से मिट्टी, पानी, चाँद, सूरज, हवा और पेड़ पोधों की प्राप्ति हुई। इन सभी से मनुष्य ने अपने जीवन में अनेको सुधार किए और अपनी जरूरत को समझा। यदि प्रकृति से मनुष्य को ये सब चींजे नहीं मिलती तो मनुष्य जीवन असंभव होता।

प्रकृति और मनुष्य की जरुरत

आज मनुष्य का जीवन जाल तैयार किया जाए तो वह मिट्टी, पानी, चाँद, सूरज, पेड़-पोधों, पशु-पक्षी, हवा, और घर आदि चीजों से घिरा हुआ है। सूरज से प्रकाश के साथ हम उर्जा भी प्राप्त करते हैं। मिट्टी से अनेकों खादय प्रदार्थ प्राप्त करते हैं। जानवरों से दूध, ऊन, मांस, और चमड़ा प्राप्त करते हैं। पेड़-पोधों से लकड़ी, फल-फूल और औषधियाँ प्राप्त करते हैं। हवा को हम स्वास लेने के साथ बहुत से अनेक कामों में उपयोग करते हैं।

प्राकृतिक संसाधन

प्रकृति की इन्हीं वस्तुओं के द्वारा ही मनुष्य ने अपना घर तैयार किया है। घर बनाने के लिए हमें लकड़ी की आवस्यकता होती है, जो हमें पेड़ों से मिलती हैं। घर के लिए ईटों को बनाने के लिए मिट्टी और पानी की जरूरत होती हैं। घर में धुप की आवश्यकता के लिए सूरज की जरूरत पड़ती है, जिसे हम सौर उर्जा के रूप में भी उपयोग करते हैं।

पानी पूरे संसार में जीवन यापन करने वाले सभी जीवों की आवश्यकता होता है। जो हमें नदियों, बरसात, कूओं और पहाड़ों से मिलता है। ये सभी चीजें आपस में भी एक-दूसरे पर निर्भर होती हैं। जो एक जाल की तरह आपस में बुने हुए हैं और अपने साथ मनुष्य को भी बांधें हुए है।

परस्पर सहजीविता

मनुष्य की तरह एक पेड़ को भी मिट्टी, हवा, सूरज और पानी की जरुरत होती है। जानवरों को अपना जीवन बचाने के लिए पानी, पेड़-पोधे, हवा और घास की जरूरत होती हैं। कुछ जानवरों को जीने के लिए अन्य जीवों की जरूरत होती हैं। जैसे: साँप को चूहे और अन्य जीवों की जरूरत होती है, ये जीव भी एक दूसरों पर निर्भर होते हैं। पेड़ों-पोधों को जानवरों से गोबर के रूप में खाद प्राप्त होती है।

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 24