एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12 काम अपने-अपने (कक्षा 3 पर्यावरण पाठ 12) के उत्तर हिंदी में सीबीएसई सत्र 2023-24 के लिए यहाँ से प्राप्त किए जा सकते हैं। कक्षा 3 के पर्यावरण अध्ययन के पाठ 12 के सभी प्रश्नों और कठिन शब्दों को विडियो के माध्यम से समझाया गया है ताकि विद्यार्थियों को आसानी से समझ आ सके।

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12

चौराहे की चहल-पहल

प्रस्तुत पाठ में एक चौराहे के बारे में बताया गया हैं। जहाँ पर बलबीर अपने दोस्त सतविंदर जो गाँव से आया है, के साथ चाय की दुकान पर चाय पी रहा है। सतविंदर ने बलबीर से पूछा आप यहाँ दिन भर समय कैसे काटते हो। बलबीर ने कहा वह देखों यहाँ सरकारी कर्मचारी से लेकर दिहाड़ी मजदुर तक के काम को साफ़ दिखाया गया है, कि सभी अपना-अपना काम स्वयं करते हैं। पेड़ के नीचे बैठ नानू नाई और जगू मोची अपनी दुकान लगाए बैठे हैं।

चौराहे से देखा गया दृश्य

बच्चे स्कूल के लिए दौड़ रहे हैं। डॉक्टर और नर्स एक साथ अस्पताल आए हैं। साथ ही चंपा फूलों की दुकान सजाएँ बैठी है। डाकघर की मैडम रोज उससे फूल खरीदती है। स्कूल की मैडम की सैंडल टूटने के कारण स्कूल देर से आई अब वह जग्गू के पास ठीक कराने जा रही है।

इक़बाल ट्रैफिक पुलिस वाला सिटी बजाकर गाड़ियों को सिगनल दे रहा है। मिस्त्री और मजदूर ने मकान का काम फिर से शुरु कर दिया है। रामुलू फल वाला अपनी बेटी चिनम्मा के साथ फल बेच रहा है। इन सभी के कामों को देखते-देखते पूरा दिन बीत जाता है।

दीपाली की पढ़ाई

चौराहे पर हम ऐसी अनेकों कामों को होते देख सकते हैं। जहाँ सभी अपने-अपने काम में लगे रहते हैं। इसी तरह एक घर के सभी सदस्य भी अपने-अपने काम करते हैं। सभी अपनी जीविका चलाने और पैसा कमाने के लिए काम करते हैं।

कुछ बच्चे अपने माता–पिता के कामों में मदद करते हैं। तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली दीपाली नाम की लड़की ने अपने परिवार की मदद करने के लिए के लिए स्कूल को छोड़ दिया था। उसकी दो छोटी बहिनें सुमन और शीला थी।

दीपाली की मेहनत

दीपाली के छोटे भाई राजू के जन्म के बाद दीपाली को घर पर रहना पड़ा और घर के सभी कामों का बोझ उसके कंधे पर आ गया था। उसे पढ़ाई करना अच्छा लगता था, इसलिए वह रात को अपनी बहन की किताबें पढती है।

दीपाली को लगता है, कि किताबें पढ़ने से उसकी दिन भर की थकावट दूर हो जाती है। दीपाली को रेडियों पर गाने सुनने का भी बड़ा शौक है। काम करते समय गाने भी सुनती रहती है। दीपाली अपनी बहनों को स्कूल छोड़ने, माँ के साथ खाना बनाने और दूसरे कामों में हाथ बंटाती है।

कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12 के मुख्य प्रश्न उत्तर

दीपाली को स्कूल क्यों छोड़ना पड़ा?

छोटे भाई राजू के जन्म के बाद दीपाली को घर पर रहना पड़ा और घर के सभी कामों का बोझ उसके कंधे पर आ गया था। इसलिए दीपाली ने स्कूल छोड़ दिया था।

बच्चों के स्कूल छोड़ने के क्या कारण होते हैं?

अधिकांश गरीब परिवारों के बच्चे प्राय या तो स्कूल जाते ही नहीं हैं या बीच में ही छोड़ देते हैं। इसके पीछे का मूल कारण अशिक्षा और गरीबी है। लोग सोचते हैं कि बच्चे या तो घर का काम कर लेंगे या उनके काम में हाथ बंटाकर पैसे कमाने का जरिया बन सकते हैं।

सरकार बच्चों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए क्या उपाय कर रही है?

सरकार बच्चों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए अनेक उपाय कर रही है। जैसे: निःशुल्क शिक्षा के साथ बच्चों को दोपहर का खाना, मुफ्त पाठय सामग्री, स्कूल की ड्रेस आदि प्रोत्साहन के रूप में दिया जाता है।

कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12 काम अपने-अपने
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12 हिंदी में
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12 हिंदी मीडियम
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12 पीडीएफ डाउनलोड
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12 प्रश्न उत्तर
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12 पर्यावरण अध्ययन
कक्षा 3 ईवीएस अध्याय 12