एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 संस्कृत अध्याय 15 मातुलचन्द्र

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 संस्कृत अध्याय 15 मातुलचन्द्र पाठ्यपुस्तक रुचिरा भाग 1 के अभ्यास में दिए गए सभी प्रश्न उत्तर और पाठ पर आधारित अन्य प्रश्नों के हल जैसे शब्द अर्थ, रिक्त स्थान, मिलान करों आदि प्रश्नों के उत्तर यहाँ से प्राप्त करें। कक्षा 6 संस्कृत के एनसीईआरटी समाधान सीबीएसई सत्र 2022-2023 के लिए बनाए तथा संशोधित किए गए हैं जो छात्रों को उनकी परीक्षा की तैयारी में बहुत मदद करते हैं। आसानी से पाठ को समझने के लिए पाठ के हिंदी अनुवाद भी दिया गया।

कक्षा 6 के लिए सभी विषय

iconicon

कक्षा 6 संस्कृत अध्याय 15 के लिए एनसीईआरटी समाधान

संस्कृत वाक्यहिन्दी अनुवाद
कुत आगच्छसि मातुलचन्द्र!चंदा मामा! तुम कहाँ से आते हो?
कुत्र गमिष्यसि मातुलचन्द्र!चंदा मामा! तुम कहाँ जाओगे?
अतिशयविस्तृतनीलाकाश:नीला आकाश बहुत दूर-दूर तक फैला हुआ है
नैव दृश्यते क्वचिदवकाश:कही खाली जगह (अवकाश:) नहीं दिखाई देता।
संस्कृत वाक्यहिन्दी अनुवाद
कथं प्रयास्यसि मातुलचन्द्र!चंदा मामा! कैसे जाओगे?
कुत आगच्छसि मातुलचन्द्र!हे चंदा मामा! तुम कहाँ आते हो?
कथमायासि न भो! मम गेहम्‌आप मेरे घर क्यों नहीं आते हो
मातुल! किरसि कथं न स्नेहम्‌मामा! तुम स्नेह क्यों नहीं बरसाते हो?
संस्कृत वाक्यहिन्दी अनुवाद
कदाऽऽगमिष्यसि मातुलचन्द्र!चंदा मामा ! तुम कब आओगे?
कुत आगच्छसि मातुलचन्द्र!चंदा मामा! तुम कहाँ से आते हो?
धवलं तव चन्द्रिकावितानम्‌तुम्हारी फैली हुई चाँदनी सफेद है।
तारकखचितं सितपरिधानम्‌तुम्हारा सफेद वस्त्र/चादर तारों से भरा है।
संस्कृत वाक्यहिन्दी अनुवाद
मह्यं दास्यसि मातुलचन्द्र!हे चंदा मामा, क्या तुम (यह वस्त्र) मुझे दोगे?
कुत आगच्छसि मातुलचन्द्र!हे चंदा मामा, तुम कहाँ से आते हो?
त्वरितमेहि मां श्रावय गीतिम्‌प्यारे मामा! जल्दी आओ, मुझे गीत सुनाओ,
संस्कृत वाक्यहिन्दी अनुवाद
प्रिय मातुल! वर्धय मे प्रीतिम्‌मेरा प्यार बढ़ाओ,
किन्नायास्यसि मातुलचन्द्र!चंदा मामा क्या तुम नहीं आओगे?
कुत आगच्छसि मातुलचन्द्र!चंदा मामा तुम कहाँ से आते हो?
कक्षा 6 संस्कृत अध्याय 15 एनसीईआरटी समाधान
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 संस्कृत अध्याय 15
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 संस्कृत अध्याय 15 हिंदी में
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 संस्कृत अध्याय 15 हिंदी अनुवाद
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 संस्कृत अध्याय 15 हिंदी मीडियम पीडीएफ