कक्षा 7 हिंदी दूर्वा अध्याय 12 शहीद झलकारीबाई के प्रश्न उत्तर

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 7 हिंदी दूर्वा अध्याय 12 शहीद झलकारीबाई के प्रश्न उत्तर तथा पाठ के आधार पर अध्ययन के लिए अतिरिक्त प्रश्नों के उत्तर सत्र 2023-24 के लिए छात्र यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं। प्रत्येक प्रश्न के उत्तर को सरल करके लिखा गया है ताकि विद्यार्थियों को आसानी से समझ आ सके।

झलकारीबाई ने लक्ष्मीबाई से किस चीज की माँग की और क्यों??

झलकारीबाई ने लक्ष्मीबाई से निर्णायक युद्ध के लिए उनके वस्त्र, पगड़ी और कलगी की मांग की जिससे कि वह अंग्रजों को धोखा दे सके और रानी लक्ष्मीबाई की रक्षा कर सके।

झलकारीबाई का क्या हुआ?
झलकारीबाई लड़ते-लड़ते वीरगति को प्राप्त हो गई।

‘जनरल! झाँसी की रानी को जिंदा पकड़ना तुम्हारे बूते की बात नहीं है।’ यह किसने, किससे और क्यों कहा?

यह बात झलकारीबाई ने जनरल से युद्ध के समय कही और उसने यह भी कहा कि रानी के जिंदा रहते तुम उसे पकड़ भी नहीं सकते।

पढ़ो, समझो और करो
नमूना – चिंता – चिंतित
उत्तर:
जीवन – जीवित
सुरक्षा -सुरक्षित
पीड़ा -पीड़ित
पराजय -पराजित
उपेक्षा -उपेक्षित

आजादी की लड़ाई में हिस्सा लेने वाली कुछ महिलाओं के नाम बताओ।

बेगम हजरत महल
लक्ष्मी सहगल
सरोजिनी नायडू
चित्तूर की रानी चेनम्मा
दुर्गा भाभी

रानी लक्ष्मीबाई के बारे में सुभद्रा कुमारी चैहान की एक प्रसिद्ध कविता तुमने पढ़ी या सुनी होगी। उसकी कुछ पंक्तियाँ कॉपी में लिखो।

सिंहासन हिल उठे, राजवंशों ने भृकुटी तानी थी,
बूढ़े भारत में भी आई फिर से नयी जवानी थी,
गुमी हुई आजादी की कीमत सबने पहचानी थी,
दूर फिरंगी को करने की सबने मन में ठानी थी,

झलकारीबाई, लक्ष्मीबाई की हमशक्ल थी। तुम्हारे विचार से हमशक्ल होने के क्या-क्या लाभ या हानि हो सकते हैं?

हमशक्ल होने के लाभ और हानि दोंनों ही हैं:
जैसे गलती एक करे तो सजा दूसरे कों मिलती है।
किसी को धोखा भी आसानी से दिया जा सकता है।
एक दूसरे का बचाव भी किया जा सकता है जैसे झलकारीबाई ने किया, उसने हमशक्ल होने का फायदा उठाकर अंग्रजों को धोखा देते हुए रानी लक्ष्मीबाई की जान की रक्षा की।

मुहावरे
अपने प्राणों के बलिदान का अवसर आ गया है। इस वाक्य में प्राणों का बलिदान देना ̧मुहावरे का प्रयोग हुआ है। नीचे कुछ और मुहावरे दिए गए हैं। इनका अपने वाक्यों में प्रयोग करो।
(क)
टूट पड़ना,
(क)
दुश्मन की सेना को देखकर सैनिक उस पर टूट पड़े।

(ख)
निढाल होना,
(ख)
रमेश तो दिन-रात मेहनत करके निढाल हो गया।

(ग)
वीरगति पाना,
(ग)
मेजर आनंद सीमा पर लड़ते-लड़ते वीरगति को प्राप्त हो गए।

(घ)
शहीद हो जाना,
(घ)
सैनिक अपने प्राणों की आहुति देकर शहीद हो गए।

(ङ)
प्राणों की बाजी लगाना,
(ङ)
देश की रक्षा के लिए सैनिकों ने प्राणों की बाजी लगा दी।
(च)
मौत के मुँह में जाना,
(च)
अनजान डरावनी जगह पर जाना मौत के मुँह में जाना होता है।

(छ)
मैदान में उतरना
(ज)
भारतीय टीम क्रिकेट के मुकाबले के लिए मैदान में उतर गईं।

कक्षा 7 हिंदी दूर्वा अध्याय 12 शहीद झलकारीबाई के प्रश्न उत्तर
कक्षा 7 हिंदी दूर्वा अध्याय 12 शहीद झलकारीबाई के उत्तर
कक्षा 7 हिंदी दूर्वा अध्याय 12 शहीद झलकारीबाई