कक्षा 1 हिंदी अध्याय 17 एनसीईआरटी समाधान – चकई के चकदुम

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 1 हिंदी अध्याय 17 चकई के चकदुम कविता रिमझिम भाग 1 के कठिन शब्दार्थ, रिक्त स्थानों की पूर्ति, सभी प्रश्न उत्तर तथा अतिरिक्त प्रश्न उत्तरछात्र-छात्राएँ सीबीएसई सत्र 2021-2022 के लिए यहाँ से निशुल्क प्राप्त करें। कक्षा 1 के लिए हिंदी में अतिरिक्त अध्ययन के लिए तिवारी अकादमी की पाठ्यपुस्तक का प्रयोग करके विद्यार्थी इसका लाभ उठा सकते हैं। ये सहायक पुस्तिका वेबसाइट और कक्षा 1 सभी विषयों के लिए ऐप में पीडीऍफ़ प्रारूप में उपलब्ध है जिसे डाउनलोड करके ऑफलाइन भी पढ़ा जा सकता है।

कक्षा 1 हिंदी अध्याय 17 के लिए एनसीईआरटी समाधान

कक्षा 1 हिंदी अध्याय 17 के कठिन शब्द अर्थ

शब्द अर्थ
चकईएक प्रकार का पक्षी
मड़ैयाछोटी झोपड़ी
ग्वालेगाय पालने वाले
नैयानाव
बगियाबाग़

कक्षा 1 हिंदी अध्याय 17 के मुख्य प्रश्न उत्तर

बच्चों ने खाने की व्यवस्था के बारे में क्या सोचा?

बच्चों ने खाने के लिए अम्मा की रसोई का चयन किया वहीं सब मिल बैठकर खाना खायेंगे।

बच्चे और कौन से खेल साथ में खेलना चाहते हैं?

बच्चे साथ में मिलकर कागज की नाव चलाना, बगिया से फूल तोड़ना आदि खेल खेलना चाहते हैं।

बच्चे खेल की समाप्ति कैसे करते हैं?

बच्चों का मन पत्थर की स्लेट की तरह होता है अभी लिखा और मन हुआ तो अभी मिटा दियाI खेल में इतनी सारी कल्पनाएँ करने के बाद अंत में कह दिया खेल ख़त्म आओ चले हम-तुम।

कक्षा 1 हिंदी अध्याय 17 कविता का भावार्थ

इस कविता में बच्चे मिल-जुल कर उत्सव मनाते हुए इस गीत को गाते हैं। गीत में चकई के चकदुम से यहाँ दो तात्पर्य हैं एक तो चकवा-चकवी पक्षी का जोड़ा और दूसरा लकड़ी की एक चक्री जिसे रस्सी के मदद से गोल-गोल घुमाया जाता है। ऐसे ही सारे बच्चे मिलकर गोल घेरा बनाकर घुमाते हुए गाते हैं कि गाँव की मड़ैया पर हम सब एक झोपड़ी बनाकर साथ रहेंगे।

जहाँ पर ग्वाले की गाय भी हो और हम सब मिलाकर उसका दूध पीयेंगे। साथ में मिलकर कागज की नाव तैरायेंगे। फूलों के बगिया से साथ-साथ फूल चुनेगें। और फिर अंत में यह गाते हुए कहते हैं कि अब खेल ख़त्म हो गया है हमें अपने-अपने घरों को जाना चाहिए।

कक्षा 1 हिंदी अध्याय 17 के अतिरिक्त प्रश्न उत्तर

इस खेल के पीछे बच्चों की किस भावना का पत्ता चलता है?

छोटे बच्चों का मन निर्मल होता है, वे दोस्तों के बीच सभी चीजें मिलकर बांटना चाहते हैं। इस गीत के माध्यम से उनके मन के भावों को समझा जा सकता है।

बच्चे साथ में मिलाकर कहाँ रहना चाहते हैं?

सभी बच्चे मिलकर मड़ैया पर एक झोपड़ी बनाकर रहना चाहते हैं।

बच्चे दूध कहाँ से पीएगें?

बच्चे कल्पना करते हैं कि ग्वाले की गाय का दूध हम सब मिलकर पीयेंगे।

आओ कविता बनाएँ

चकई के चकदुम, कवि बनें हम-तुम।
इस तरह की कविता की लाइने अपने ओर से बनाइये।
जैसे:
(i) चकई के चकदुम, चकई के चकदुम। फूलों के बाग़ में तितली पकड़ें हम-तुम।
(ii) चकई के चकदुम, चकई के चकदुम। छुपम-छुपाई खेलें हम-तुम।

कक्षा 1 हिंदी अध्याय 17
कक्षा 1 हिंदी अध्याय 17 अभ्यास