एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 गणित प्रश्नावली 9.1

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 गणित प्रश्नावली 9.1 आँकड़ों का प्रबंधन अभ्यास के प्रश्न उत्तर हिंदी और अंग्रेजी में सत्र 2023-24 के लिए यहाँ दिए गए हैं। कक्षा 6 गणित अध्याय 9.1 के हल पीडीएफ तथा विडियो के माध्यम से विस्तार से समझाए गए हैं ताकि प्रत्येक छात्र इसे आसानी से समझ सके।

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 गणित प्रश्नावली 9.1

आंकड़े और सारणी

आंकड़े
आंकड़ा किसे कहते हैं? गुणात्मक या मात्रात्मक चर के मानों के समुच्चय को आँकड़ा कहते हैं। आँकड़े मापे जाते हैं, एकत्र किये जाते हैं, रिपोर्ट किये जाते हैं तथा उनका विश्लेषण किया जाता है। विश्लेषण के पश्चात आंकड़ों को ग्राफ या छबि के रूप में प्रस्तुत किया जा सकता है।
सारणी
एक निर्धारित उद्देश्य को सामने रखकर संबंधित आंकड़ों को कॉलम तथा पंक्तियों के रूप में प्रस्तुत करने को सारणी कहते है। सारणी आंकड़ों को सरल संक्षिप्त और व्यवस्थित रूप से प्रस्तुत करती है।

आँकड़ों का अभिलेखन

आइए, एक उदाहरण लें जिसमें किसी कक्षा के विद्यार्थी एक सैर पर जाने की तैयारी कर रहे हैं। शिक्षक ने विद्यार्थियों से चार फलों केला, सेब, संतरा या अमरूद में से एक फल चुनने को कहा। इसकी सूची बनाने का कार्य उमा को सौंपा गया। उसने सभी बच्चों की एक सूची बनाई और प्रत्येक नाम के सम्मुख उसके द्वारा चुना हुआ फल लिख दिया। यह सूची बच्चों की पसंद के अनुसार उन्हें फल देने में शिक्षक की सहायता करेगी।

यदि शिक्षक यह जानना चाहे कि कक्षा के लिए कितने केलों की आवश्यकता होगी, तो उसे सूची में दिए सभी नामों को एक-एक करके पढ़ कर केलों की संख्या की गिनती करनी पडे़गी और इससे ज्ञात होगा कि कुल कितने केलों की आवश्यकता है। सेबों, अमरूदों और संतरों की अलग-अलग संख्याएँ ज्ञात करने के लिए भी उसे प्रत्येक फल के लिए, इसी प्रक्रिया को दोहराना होगा। यह प्रक्रिया कितनी जटिल और समय लेने वाली है। यह प्रक्रिया और भी अधिक जटिल हो सकती है, यदि सूची में विद्यार्थियों की संख्या 50 हो जाए।

आँकड़ों का संगठन

अपरिष्कृत आँकड़ों को सरल, संक्षिप्त तथा व्यवस्थित ढंग से प्रस्तुत करने को आँकड़ों का व्यवस्थितिकरण कहा जाता है ताकि उन्हें आसानी से आगे के सांख्यिकीय विश्लेषण के योग्य बनाया जा सके।
उपरोक्त आंकड़ो को व्यवस्थित करके निम्न प्रकार से लिखा जा सकता है:
फल – विद्यार्थियों की संख्या
केला – 8
संतरा – 3
सेब – 5
अमरुद – 4

चित्रालेख

एक चित्रलेख आँकड़ों को चित्रें, वस्तुओं या वस्तुओं के भागों के रूप में निरूपित करता है। इसको केवल देखकर ही आँकड़ों से संबंधित प्रश्नों के उत्तर दिए जा सकते हैं।
स्मरणीय तथ्य:

    • हमने देखा कि आँकड़े कुछ सूचना देने के लिए एकत्रित की गई संख्याओं के संग्रह होते हैं।
    • दिए हुए आँकड़ों से कोई विशेष सूचना तुरंत प्राप्त करने के लिए, उन्हें मिलान चिह्नों का प्रयोग करके सारणियों में प्रकट (प्रस्तुत) किया जा सकता है।
कक्षा 6 गणित प्रश्नावली 9.1 एनसीईआरटी समाधान
एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 गणित प्रश्नावली 9.1
कक्षा 6 गणित प्रश्नावली 9.1
कक्षा 6 गणित 9.1