एनसीईआरटी समाधान कक्षा 10 गणित प्रश्नावली 15.1

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 10 गणित प्रश्नावली 15.1 प्रायिकता के हल हिंदी में सीबीएसई सत्र 2022-2023 के लिए यहाँ से प्राप्त किए जा सकते हैं। कक्षा 10 गणित की प्रश्नावली 15.1 में दिए गए प्रश्नों के साथ-साथ सत्य-असत्य, खाली स्थान भरना, 1 अंक वाले प्रश्न आदि अतिरिक्त प्रश्नों के हल भी दिए गए हैं। इनकी मदद से छात्र अपनी परीक्षा की तैयारी आसानी से कर सकेंगे।

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 10 गणित प्रश्नावली 15.1

प्रायिकता

किसी घटना के घटने या न घटने की सम्भाब्यता को उसकी प्रायिकता कहलाती है। उदाहरण के लिए यदि कोई सिक्का उछाला जाय तो या तो हेड आएगा या टेल आएगा। इस प्रकार 2 सम्भावना मे 1 हेड या 1 टेल आएगा। दोनों की ही प्रायिकता 1/2 होगी।
प्रायिकता P(E) = अभिप्रयोगों की संख्या जिनमें घटना घटित हुई है / अभिप्रयोगों की कुल संख्या

सैद्धांतिक प्रायिकता

किसी घटना E की सैद्धांतिक प्रायिकता जिसे परंपरागत प्रायिकता भी कहा जाता है।ह P(E) निम्नलिखित रूप में परिभाषित की जाती है।
P(E) = E के अनुकू ल परिणामों की सख्ंया / प्रयोग के सभी संभव परिणामों की सख्ंया

हल सहित उदाहरण

एक चित प्राप्त करने की प्रायिकता ज्ञात कीजिए, जब एक सिक्के को एक बार उछाला जाता है। साथ ही, एक पट प्राप्त करने की भी प्रायिकता ज्ञात कीजिए।
हल:
एक सिक्के को एक बार उछालने के प्रयोग में, संभव परिणामों की संख्या 2 है: चित (H) और पट (T)। मान लीजिए घटना E ‘चित प्राप्त करना’ है। तब, E के अनुकूल (अर्थात् चित प्राप्त करने के अनुकूल) परिणाम 1 है। अतः,
P(E) = P (चित) = E के अनुकूल परिणामों की सख्ंया/ सभी संभव परिणामों की सख्ंया = 1/2
इसी प्रकार, यदि घटना F पट प्राप्त करना है, तो P(F) = P (चित) = ½

अभ्यास के लिए प्रश्न

एक थैले में एक लाल गेंद, एक नीली गेंद और एक पीली गेंद है तथा सभी गेंदे एक ही साइज की हैं। कृतिका बिना थैले के अंदर झाँके, इसमें से एक गेंद निकालती है। इसकी क्या प्रायिकता है कि वह गेंद
(i) पीली होगी?
(ii) लाल होगी?
(iii) नीली होगी?

हल:
कृतिका थैले में से, उसमें बिना झाँके, गेंद निकालती है। अतः, उसके द्वारा कोई भी गेंद निकालना समप्रायिक है।
माना ‘पीली गेंद निकालना’ घटना y है, ‘लाल गेंद निकालना’ घटना R है तथा ‘नीली गेंद निकालना’ घटना B है। अब, सभी संभव परिणामों की संख्या = 3 है।
(i) घटना Y के अनुकूल परिणामों की संख्या = 1
अतः P(Y) = 1/3
इसी प्रकार, P(R) = 1/3
और P(B) = 1/3

प्रारंभिक घटना

किसी प्रयोग की वह घटना जिसका केवल एक ही परिणाम हो प्रारंभिक घटना कहलाती है। उदाहरण 1 में दोनों घटनाएँ E और F प्रारंभिक घटनाएँ हैं।
ऊपर दिए गए उदाहरण में हम देखते हैं कि P(E) + P(F) = ½ + ½ = 1
नोट:
किसी प्रयोग की सभी प्रारंभिक घटनाओं की प्रायिकताओं का योग 1 है। यह व्यापक रूप में भी सत्य है।

अभ्यास के लिए प्रश्न

मान लीजिए हम एक पासे को एक बार फेंकते हैं।
(i) 4 से बड़ी संख्या प्राप्त होने की प्रायिकता क्या है?
(ii) 4 से छोटी या उसके बराबर संख्या प्राप्त होने की प्रायिकता क्या है?

हल
(i) यहाँ मान लीजिए कि ‘4 से बड़ी संख्या प्राप्त करना’ घटना E है। सभी संभव परिणाम छः हैं, ये 1, 2, 3, 4, 5 और 6 हैं। स्पष्टतः, घटना E के अनुकूल परिणाम 5 और 6 हैं। अतः E के अनुकूल परिणामों की संख्या 2 है। इसलिए
P(E) = P (4 से बड़ी संख्या) = 2/6 = 1/3
(ii) मान लीजिए ‘4 से छोटी या उसके बराबर संख्या प्राप्त करना’ घटना F है। सभी संभव परिणाम = 6 हैं।
घटना F के अनुकूल परिणाम 1, 2, 3 और 4 हैं।
अतः F के अनुकूल परिणामों की संख्या 4 है।
इसलिए P(F) = 4/6
= 2/3
क्या उपरोक्त उदाहरण में दी हुई घटना E और F प्रारंभिक घटनाएँ हैं? नहीं, ये प्रारंभिक घटनाएँ नहीं हैं, क्योंकि घटना E के 2 परिणाम हैं तथा घटना F के 4 परिणाम हैं।

स्मरणीय तथ्य
    1. प्रायोगिक प्रायिकता (वास्तविक प्रयोगों के परिणामों पर आधारित थीं।) और सैद्धांतिक प्रायिकता (जिसे पारंपरिक प्रायिकता भी कहते हैं) में अंतर।
    2. घटना E की सैद्धांतिक (या परंपरागत) प्रायिकता P(E) को निम्नलिखित रूप में परिभाषित किया जाता हैः P(E) = E के अनुकूल परिणामों की सख्ंया/ सभी संभव परिणामों की सख्ंया
      जहाँ हम कल्पना करते हैं कि प्रयोग के सभी परिणाम समप्रायिक हैं।
कक्षा 10 गणित प्रश्नावली 15.1 समाधान
कक्षा 10 गणित प्रश्नावली 15.1 के हल
कक्षा 10 गणित प्रश्नावली 15.1 समाधान सीबीएसई
कक्षा 10 गणित प्रश्नावली 15.1 समाधान यूपी बोर्ड
कक्षा 10 गणित प्रश्नावली 15.1 समाधान एमपी बोर्ड
कक्षा 10 गणित प्रश्नावली 15.1 समाधान पीडीएफ़
कक्षा 10 गणित प्रश्नावली 15.1 समाधान 2022-2023 के लिए
कक्षा 10 गणित प्रश्नावली 15.1 समाधान मुफ्त निशुल्क